शुक्रवार, 20 जनवरी 2012

मंजू मेघवाल के राज्यमंत्री बनने पर तीर्थ नगरी में खुशी की लहर


पुष्कर.विधायक  मंजू मेघवाल के राज्यमंत्री बनने पर तीर्थ नगरी में खुशी की लहर छा गई।यही नहीं कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बड़ी संख्या में जयपुर पहुंच खुशी का इजहार किया।

मेघवाल और अख्तर का कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया। नसीम तीर्थनगरी से विधायक हैं वहीं मंजू मेघवाल पुष्कर की बेटी हैं।


दोनों विधायकों के स्वागत के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में भी शिरकत की। जयपुर में राज्यमंत्री का स्वागत करने वालों में पूर्व पालिकाध्यक्ष दामोदर शर्मा, पूर्व उपाध्यक्ष डीके शर्मा, श्री तीर्थ गुरु पुष्कर पुरोहित संघ ट्रस्ट के अध्यक्ष लाडू राम शर्मा थे। इनके अलावा संयोजक श्रवण पाराशर, ट्रस्ट की युवा समिति के अध्यक्ष गोविंद पाराशर, पार्षद सुभाष राठौड़िया, राजेंद्र महावर, संजय जोशी, राधेश्याम नागौरा, पूर्व पार्षद चांदमल उदय, ताराचंद गहलोत, गोविंद गुरु, कड़ैल सरपंच संतोष कंवर, पूर्व सरपंच घनश्याम सिंह, नांद सरपंच कुमकुम कंवर आदि शामिल थे।

नसीम आज करेंगी सरोवर की पूजा-अर्चना

राज्यमंत्री बनने के बाद नसीम अख्तर गुरुवार दोपहर 3 बजे पुष्कर आएंगी। वे मुख्य गऊघाट पर पुष्कर सरोवर की पूजा-अर्चना करेंगी। इसके बाद ब्रह्मा जी के मंदिर के दर्शन करेंगी। पुष्कर आगमन पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के अलावा नगर वासी उनका स्वागत करेंगे। कांग्रेसी उन्हें अजमेर रोड स्थित यात्री कर नाके से जुलूस के साथ गऊघाट लेकर पहुंचेंगे।

पुष्कर के विकास में नहीं छोड़ेंगी कसर :

मंत्री पद की शपथ लेने के बाद पुष्कर विधायक नसीम अख्तर ने भास्कर से कहा, मैं तीर्थराज पुष्कर के विकास के लिए पहले भी प्रयासरत थी और अब भी कटिबद्ध हूं। मुझे जनता ने सेवा का मौका दिया है उसे जिम्मेदारी से पूरा करूंगी।

उन्होंने कहा पुष्कर के विकास में धन की कमी नहीं आने दी जाएगी। पुष्कर तीर्थ का विकास पहली प्राथमिकता है। राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं सीएम ने जो दायित्व सौंपा है उसे वह जिम्मेदारी से निभाएंगी

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

नवरत्न मन्डुसिया

खाटूश्यामजी मे होगा 25 दिसम्बर 2017 को बलाई समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से //बेटा अंश है तो बेटी वंश है, बेटा आन है तो बेटी शान है, का संदेश देते हुए राज्य स्तरीय सामूहिक विवाह व पुर्नविवा...