सोमवार, 2 नवंबर 2015

जातिवाद दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवाद :- नवरत्न मन्डुसिया

जातिवाद हमारे देश मे बहूत जोरों शोरो से चल रहा । हमारे देश मे यदि जातिवाद हट जाये तो हमारे भारत देश को वापिस सोने की चिड़िया कह सकते है क्यों की देश का सबसे बड़ा आतंकवाद जातिवाद ही है। सुरेरा राजस्थान के युवा लेखक समाज सेवी नवरत्न मन्डुसिया ने बताया की डॉक्टर भीव राव अम्बेडकर ने समानता का कानून बनाया था लेकिन बाबा साहेब की कलम की अवहेलना की जा रही हैं और आज भी जातिवाद की बाढ़ आ रही हैं और कब रुकेगी ये जातिवाद की पाठशाला जब तक तक जातिवाद बढ़ता रहेगा तो भारत देश मे कोई भी समुदाय एक साथ नज़र नही आयेगा । सभी समुदायो के साथ कही ना कही भी भेदभाव किया जाता हैं ये लोग ऐसी नकारात्मक सोच क्यों रखते हैं जातिवाद एक भयंकर समस्या हैं क्यों की यह प्रथा हमारे समाज के लिये एक दिन बहूत समस्या बन जायेगी इस कारण समाज पिछड़ता जायेगा और हम आगे बढ़ नही पायेंगे इस कारण हम सभी लोगों कॊ एकता की भावना रखकर हम सभी कॊ आगे आना चाहिये और इस जातिवाद की पाठशाला कॊ विलुप्त करना चाहिये । और हम पूरे विश्व मे ये मुहिम की क्रांति चलानी जिसमे जातिवाद कॊ मिटाया जा सके । भारतीये संविधान ने सभी नागरिकों कॊ समानता का अधिकार दिया गया हैं और राजनेतिक और कानूनी तौर पर भी सभी समान हैं फ़िर भी समाज के साथ अत्याचार होता हैं और सरकार कोई गम्भीर कदम नही उठाती है । इसलिए हमारे समुदायो कॊ आगे बढ़ना हैं हमारे समाज मे आज भी ऐसी चुनौतियां हैं जिनके आधार पर विभिन्न समूहों / समुदायों व व्यक्तियों के साथ भेदभाव किया जाता हैं ऐसी घटनाये हमारे समाज को पिछडापन बना देती हैं इस कारण हमे समाज की खातिर आगे आना चहिये और समाज एकता मे अपना योगदान देना चहिये ॥

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

नवरत्न मन्डुसिया

खाटूश्यामजी मे होगा 25 दिसम्बर 2017 को बलाई समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से //बेटा अंश है तो बेटी वंश है, बेटा आन है तो बेटी शान है, का संदेश देते हुए राज्य स्तरीय सामूहिक विवाह व पुर्नविवा...