मंगलवार, 8 अगस्त 2017

समाजसेवी पुखराज दिवराया मारवाड़ क्षेत्र सहित राजस्थान मे रक्तदाता के नाम से पहचान बनी

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से✅✅//  राजस्थान प्रांत के युवा अब बहूत ही चंचल और समाज सेवी बन रहे है इनमें इतना जोश की यह किसी भी काम के मुकाम को हासिल किये बिना पीछे नही हटते है आइये आज हम एक ऐसे युवा की जीवनी पर प्रकाश डालेंगे जिसमे हर समाज को गर्व महसूस होगा की की मेघवाल समाज मे भी ऐसे जीनियस युवा मेघवाल समाज मे जन्म ले चुके है मारवाड़ क्षेत्र के जोधपुर जिले मे जन्मे पुखराज दिवराया एक सकरात्मक सोच वाले अम्बेडकरवादी युवा है जो की सभी समुदायों मे हेल्पर पुखराज के नाम से जाना व पहचाना जाता है वर्तमान मे पुखराज की उम्र केवल 25 साल है लेकिन इतनी कम उम्र मे बड़े बड़े समाज हित मे तो केवल बाबा साहेब के अनुयायी ही कर सकता है पुखराज मेघवाल की शिक्षा बी.ए.  एम॰ ए. और पत्रकारिता है आजाद भारत मे हमे कम ही लोग मिलेंगे की जो बिना स्वार्थ काम करेंगे पुखराज दिवराया के पिता जी घीसू लाल जी है और माता का नाम चम्पा देवी जी है पुखराज वर्तमान मे रोयल्टी नाका बालसमंद मन्डोर रोड रहते है पुखराज मेघवाल पेशे से बिजनेसमैन है और बिजनेस के साथ साथ समाज सेवा मे ही हमेशा आगे रहते है मे नवरत्न मन्डुसिया मेघवाल समाज के युवा साथी बहूत गर्व महसूस करता हूँ की आज के ज़माने मे भी ऐसे युवा है जो समाज सेवा मे अव्वल आ रहे है पुखराज मेघवाल मानवाधिकार एवम न्याय आयोग (ट्रस्ट) के राजस्थान प्रांत के प्रदेश संयोजक के पद पर भी विराजमान है और पूर्व मे कॉलेज के अध्यक्ष पद पर भी विराजमान हो चुके है पुखराज दिवराया ने प्रथम प्रयास मे रक्तदान शिविर लगाकर मेघवाल समाज से 100 यूनिट की व्यवस्था की है और लगभग 1500 लोगो की सहायता भी कर चुके है मेघवाल समाज के युवाओं को आगे बढ़ने के लिये दिनप्रतिदिन प्रेरित करते रहते है इस रक्त दान और रक्त दाता के नाम से पहचान बन गयी है पुखराज मारवाड़ क्षेत्र सहित राजस्थान प्रांत मे बहूत जोरों शोरो से रक्तदाता के नाम से दिनप्रतिदिन पहचान बन रही है तथा इनके अलावा समाज सेवा मे बहूत रुचि रखते है पुखराज मेघवाल ने भोपालगढ़ विधानसभा क्षेत्र मे डॉक्टर भिव राव अम्बेडकर की मूर्ति लगवाई है और लगभग 21 मूर्तियों को लगाने का संकल्प लिया है पुखराज दिवराया बेटी बचावो बेटी पढ़ोओ कार्यक्रम करवाते है जिसमे बेटियाँ समाज मे पढ़ लिख कर भारत देश का भविष्य बनेगी पुखराज मेघवाल के उद्देश समाज मे व्याप्त कुरुतीयो को मिटाना है तथा समाज हित मे कार्य करना है पुखराज मेघवाल हमेशा गरीबों की सहायता करने मे बहूत ही तत्पर रहते है और सामूहिक विवाह सम्मेलनों मे भी बहूत बार भाग लेकर  समाज  हित मे काम किया है पुखराज दिवराया भाईचारे मे बहूत ज्यादा विश्वास करते है और कहते है यदि हम लोग भाईचारे की भांति रहेंगे तो हम हर समाज को आगे बढ़ा सकते है :- नवरत्न मन्डुसिया की कलम से
पुखराज दिवराया को सम्मानित करते हुवे समाज बंधु 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

नवरत्न मन्डुसिया

सरकारी सेवा के बाद भी सेवा समाप्त नही होती :- मन्डुसिया

दिल्ली : जिला अस्पताल में तैनात चीफ फार्मासिस्ट आलोक यादव  के सेवानिवृत्त होने पर आयोजित विदाई समारोह में उन्हें विदाई दी गई। इस मौके स्मृति...