मंगलवार, 18 अप्रैल 2017

राजस्थान के यो यो सी.एल.बी ग्रूप के सिंगर चुन्नी लाल बिकूनिया ने गाया जय भीम जय भीम सॉन्ग ने पूरे विश्व मे धूम मचाई

मन्डुसिया लेखन // राजस्थान प्रांत के नागौर जिले के परबतसर  का एक और युवा इन दिनों गायकी के क्षेत्र में नाम कमा रहा है। मेघवाल समाज के युवा गायक चुन्नी लाल बिकूनिया  की  म्यूजिक एलबम जय भीम जय भीम  इन दिनों सोशल मीडिया पर धूम मचा रही है। यू-ट्यूब पर यौ यौ सी.एल.बी के नाम से महसूर हो गये है दोस्तो चुन्नी लाल बिकूनिया केवल 22 साल का युवा है चुन्नी लाल बिकूनिया ने जब जय भीम जय भीम गाना गाया  गया तो पूरे देश विदेशो मे छा गये  इस मेघवाल समाज के युवा ने हजारो भजन गजलें गाकर पूरे दोस्तो को अपने काबू मे कर लिया है और अब देश विदेशो से गायकी के ऑफर आ रहे है चुन्नी लाल जी बिकूनिया  के जय भीम जय भीम सांग ये लाखो लोग सुनकर सी एल बी की मधुर आवाज को सराह चुके हैं।


जय भीम जय भीम  इस गीत को अब तक सोशल मीडिया पर करीब लाखो. (करीबन 3 लाख ) लोग सुन चुके हैं  बाद से यह गाना युवाओं की जुबां पर है।
खास बात यह है कि इस गीत में चुन्नी लाल बिकूनिया की सुरीली आवाज के साथ अब राष्ट्रीय देशों मे जगह बना रहे है इस  बेहतरीन वीडियोग्राफी और म्यूजिक के चलते यह गीत कम समय में ही बहुत हिट हो चुका है। नागौर के परबतसर कस्बा निवासी बिकूनिया  ने वर्षों तक संगीत की तालीम लेने के बाद कड़ा रियाज करके अपने सपने को पंख लगाए हैं।
चुन्नी लाल बिकूनिया  कहते हैं कि बचपन से ही मेरा सपना एक अच्छा  गायक कलाकार बनने का है। स्कूली शिक्षा हासिल करने के बाद मैंने गायन का प्रशिक्षण लेना आरंभ कर दिया। इस दौरान कई बेहतरीन संगीतकारों और गायकों ने हौसला बढ़ाया। यहीं से मेरा मनोबल बढ़ा व कई सालों की
कड़ी मेहनत के बाद अपनी जय भीम जय भीम  एलबम लांच करने में सफल रहा हूं। बिकूनिया  प्रदेश के कई प्रमुख सांस्कृतिक कार्यक्रमों, महोत्सवों में स्टेज पर अपनी गायकी का जादू दिखा चुके हैं। वहीं, चुन्नी लाल बिकूनिया गीत लिखने और संगीतबद्ध करने में भी पारंगत हैं। बिकूनिया का सपना अब गायन के क्षेत्र में अंतराष्ट्रीय फलक पर नाम कमाने का है। और अब देश विदेश से भी ऑफर आने लग गये है जब मेने बिकूनिया साब को गाना फिलिपीन्स के मेरे फेसबुक मित्र जीसेल कूइजोन को जय भीम जय भीम गाना भेजा तो उनको बहूत पसंद भी आया और मुझे चुन्नी लाल जी बिकूनिया साब के लिये बधाई संदेश भेजा और फ़िर मेने अफ्रीका के मालावाई देश के अब्रेन ऐअन और फ्रांस के च्यूम चेन उरिय्र को जय भीम जय भीम गाना भेजा तो इन्होने यह भारतीय गाने को  भिव राव अम्बेडकर जी की 126 वी जयंती पर बजाया गया और बधाई संदेश दिया गया
नवरत्न मन्डुसिया की कलम से 

1 टिप्पणी:

नवरत्न मन्डुसिया

खाटूश्यामजी मे होगा 25 दिसम्बर 2017 को बलाई समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से //बेटा अंश है तो बेटी वंश है, बेटा आन है तो बेटी शान है, का संदेश देते हुए राज्य स्तरीय सामूहिक विवाह व पुर्नविवा...