शनिवार, 27 जून 2015

एम. कोम. की छात्रा बनी राजलिया (नागोर) की कम उम्र की सरपंच



वन्दना पिपरालिया  एम. कोम. की छात्रा बनी राजलिया (नागोर) की कम उम्र की सरपंच | वन्दना पिपरालिया ने राजलिया (नागोर) में  पहुंचकर लोगों को चुनाव जीत जाने की  सूचना दी तो लोग खुशी से नाचने लगे। उन्होंने गांव में लड्डू बांटे। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं  ने मिठाइयां बांटकर खुशी जाहिर वन्दना पिपरालिया के सरपंच निर्वाचित होते ही राजलिया (नागोर) मे खुशी की लहर दौड़ी 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

नवरत्न मन्डुसिया

भँवर मेघवंशी ने किया अपना देहदान

एक जरुरी फैसला - देहदान का ! मैं जो भी हूँ ,आप सबके प्यार ,स्नेह और मार्गदर्शन की वजह से हूँ। इसलिए आप सबका खूब खूब धन्यवाद ,साधुवाद,आभा...