सोमवार, 23 अप्रैल 2012

राजस्थान के जोधपुर और जैसलमेर क्षेत्र के मेघवाल समुदाय स्थानीय ऊन को संकीर्ण पट्टी में बिन कर उन से विभिन् प्रकार के उत्पाद जैसे बर्डी ओड़नी, पट्टू कशीदा – कमखाब ओड़नी, दुपट्टा , कुशन कवर , टेबल रुन्नेर , कुर्ता - अंगरखा, सलवार - ढीली पतलून और बैग, आदि सील के बनाये जाते हैं. के आधार कपड़ा या तो सादा है या टवील और रूपांकनों एक क्षेत्र में अतिरिक्त बाने के प्रयोग के अकेले आकृति तक ही सीमित के माध्यम से बनाई गई हैं. अतिरिक्त कपड़ा आधार कपड़ा के विपरीत रंग के आम तौर पर होता है और हर दो चुनता के बाद डाला जाता है, इस तरह पतले कढ़ाई कपड़े की एक धारणा का निर्माण किया.

Jodhpur and Jaisalmer area of ​​Rajasthan Meghwal community, local wool narrow strip of the different types of products such as those in the bin Odni Birdy, plaids needlework - Kmkhab Odni, scarf, cushion covers, Table Runner, shirt - tunic, salwar - loose trousers and bags, etc. are made of seal. The basis of either plain or twill fabric motifs in an area containing only limited to the use of extra weft are made through. Additional fabric base cloth is usually of the opposite color, and after every two picks are inserted, thus producing an impression of finely embroidered clothes....

http://themecrafts.in/ProductType/Hand_Crafted_Stoles-hi-IN-294.aspx

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

नवरत्न मन्डुसिया

सरकारी सेवा के बाद भी सेवा समाप्त नही होती :- मन्डुसिया

दिल्ली : जिला अस्पताल में तैनात चीफ फार्मासिस्ट आलोक यादव  के सेवानिवृत्त होने पर आयोजित विदाई समारोह में उन्हें विदाई दी गई। इस मौके स्मृति...