बुधवार, 4 अप्रैल 2012

आराध्य बाल तपस्वी अणसी बाई मेघवाल

भास्कर न्यूज. नाडोल
कस्बे में स्थित आराध्य बाल तपस्वी अणसी बाई की 86 वीं जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। मेघवालों के बड़े बास में स्थित बाल तपस्वी अणसी बाई के जन्म स्थल से शनिवार को पुजारी मांगीलाल मेघवाल के सानिध्य में बैंड बाजा, झांकी व गेर नृत्य के साथ शोभायात्रा निकाली गई।
शोभायात्रा कस्बे के मुख्य मार्गों से गुजरी तो ग्रामीणों ने पुष्प वर्षा से स्वागत किया। इसके बाद खारडा रोड स्थित बाल तपस्वी अणसी बाई समाधि स्थल पर पहुंचकर विसर्जित हुई, जहां पर सैकड़ों श्रद्धालु एवं संतों के सानिध्य में चादर चढ़ाने की रस्म अदा की गई। इसके साथ पूजा-अर्चना कर प्रसादी का वितरण किया गया। पूर्व संध्या पर 'एक शाम श्री बाल तपस्वी अणसी बाई के नामÓ भजन संध्या का आयोजन किया गया। भजन संध्या में गायक कलाकार संत कन्हैयालाल एंड पार्टी आदि कई कलाकारों ने प्रस्तुति दी। समारोह में सहयोग देने वाले दानदाताओं एवं अतिथियों का साफा एवं माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। इस मौके पर कांग्रेस के संयुक्त सचिव मदन सिंह राजपुरोहित, बीडीओ घीसाराम बामणिया, जिला परिषद सदस्य प्रमोद सिंह मेघवाल, सरपंच मनीषा मेघवाल, पंचायत समिति सदस्य ओंकारलाल मेघवाल, मेघवाल युवा समिति के जिला संयुक्त सचिव गौतम चंद गजनीपुरा आदि उपस्थित थे।

1 टिप्पणी:

  1. आराध्य बाल तपस्वी अणसी बाई मेघवाल janshi ki rani laxmi bai or jarkari ki nitiyo ko sambodhan karti thi

    उत्तर देंहटाएं

नवरत्न मन्डुसिया

खाटूश्यामजी मे होगा 25 दिसम्बर 2017 को बलाई समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से //बेटा अंश है तो बेटी वंश है, बेटा आन है तो बेटी शान है, का संदेश देते हुए राज्य स्तरीय सामूहिक विवाह व पुर्नविवा...