रविवार, 12 जून 2011

बयानों की बाढ़, तारीफों के पुल

 master bhanwar meghwal   surera gram me meghwal samaj ki samuhik bhetak me master bhanwar lal meghwal ban ne ka sanklap liya h  or kha  h  ki  hme  samaj ko aage  bhada  kar  samaj ka  naam  roshan karna  hoga



सीकर. अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले शिक्षामंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल शनिवार को सीकर के सेंट पॉल्स सीनियर सैकंडरी स्कूल में हुए सम्मान समारोह में ऐसे छाए कि संगठनों से लेकर अफसर तक उनके सुर में सुर मिलाते नजर आए।

उनकी तारीफ के ऐसे कसीदे पढ़े कि बातों-बातों में कई निशाने साध दिए। बतौर वक्ता डीईईओ जगदीश चंद खंडेलवाल ने शुरुआत में ही शेर सुना डाला कि ‘है किसकी जुर्रत जो भंवरलाल की परवाज को रोक सके’। पिपराली के ब्लॉक सीएमओ एम सागर ने कहा कि मुख्यमंत्री शिक्षामंत्री को हटाना चाहते हैं। भंवरलाल जो कर सकते हैं, वह दूसरा कोई मंत्री नहीं कर सकता। मंत्री ने सरकार के आधे कार्यकाल में ही कई बड़े फैसले किए हैं। अखिल राजस्थान अनुसूचित जाति-जनजाति, पिछड़ी जाति अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त महासंघ और राजस्थान शिक्षक संघ अंबेडकर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत में ही राज्य मंत्रिमंडल के प्रस्तावित फेरबदल की चर्चा निकल पड़ी।

यहीं से शिक्षा मंत्री की तारीफों के पुल बांधने शुरू हुए। एक के बाद एक शिक्षा महकमे के अधिकारी कहते रहे कि उन्होंने आज तक ऐसा शिक्षा मंत्री नहीं देखा। जयपुर संभाग के शिक्षा उपनिदेशक ज्ञानचंद मौर्य ने उन्हें कर्मशील बताया तो चूरू के उपनिदेशक नोपाराम वर्मा ने कहा कि कोई और शिक्षा मंत्री होता तो माला पहनाने के लिए भी नजदीक नहीं आने देता। कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष रामस्वरूप मीणा बोले, विभाग के लोग मंत्री की तारीफ कम कर दें तो मास्टर मेघवाल जल्द गृह मंत्री नजर आएं। उन्होंने कहा, कांग्रेस सरकार एससी-एसटी के वोटों से बनी है।

मुख्यमंत्री अपने नव रत्नों में से पहले रत्न की जरूर सोचेंगे। उन्होंने शिक्षा मंत्री की ओर इशारा कर कहा कि यदि आपको कल गृह विभाग मिल गया तो पुलिस से भ्रष्टाचार खत्म हो जाएगा, क्योंकि एससी-एसटी के लोग ईमानदार होते हैं। अब बारी शिक्षा मंत्री के बोलने की थी। एक घंटा, 13 मिनट तक दिए भाषण में उन्होंने कहा, मैंने शिक्षामंत्री रहते जो काम किए, उन्हें मुख्यमंत्री भी जानते हैं। इसीलिए उन्होंने अजमेर में मुझे जांबाज शिक्षा मंत्री कहा था। मंने ढाई साल में शिक्षा विभाग में कई सुधारात्मक कार्य किए हैं। फिर बोले, शिक्षा मंत्री रहूं न रहूं महकमे में ऐसी लकीर बनाकर जाऊंगा कि कोई मिटा ही नहीं सकेगा।

भाजपा के पूर्व विधायक ने भी की तारीफ: लक्ष्मणगढ़ से भाजपा के विधायक रहे केडी बाबर ने भी भाषण में शिक्षामंत्री मेघवाल के कार्यो की तारीफ की। शिक्षामंत्री ने अपने भाषण में कहा कि बीजेपी-कांग्रेस क्या होती है, मैंने अच्छा काम किया है, बड़ाई होनी चाहिए।

1 टिप्पणी:

  1. मेघवाल मनीषी मण्डल का सम्मान समारोह शुक्रवार को

    कोलायत & शुक्रवार को मेघवंशी धर्मशाला में राजस्व तहसीलदार भोमाराम मेघवाल की अध्यक्षता में मेघवाल मनीषी मण्डल का सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता उपनिवेशन तहसीलदार मांगीलाल मेघवाल करेंगे। अध्यक्ष किसानाराम कांटिया ने बताया कि सम्मान समारोह में प्रतिभावान छात्र-छात्राओं व पंचायतीराज जनप्रतिनिधियों का सम्मान किया जाएगा।

    उत्तर देंहटाएं

नवरत्न मन्डुसिया

खाटूश्यामजी मे होगा 25 दिसम्बर 2017 को बलाई समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन

नवरत्न मन्डुसिया की कलम से //बेटा अंश है तो बेटी वंश है, बेटा आन है तो बेटी शान है, का संदेश देते हुए राज्य स्तरीय सामूहिक विवाह व पुर्नविवा...